अनुपम सक्सेना बने झांसी के नए स्टेशन डायरेक्टर, गिरीश कंचन हुए रिलीव

झांसी।कुर्सी से चिपके बैठे स्टेशन डायरेक्टर गिरीश कंचन को आखिर यहां से विदा होना ही पड़ा।उनकी जगह मण्डल परिचालन अधिकारी अनुपम सक्सेना नए डायरेक्टर बनाये गए हैं।जिस प्रकार उनकी कार्यशैली है उसे देखकर आसानी से कहा जा सकता है कि निश्चित रूप से झांसी स्टेशन भारतीय रेलवे में अपना नाम गौरवपूर्ण अक्षरों में अंकित करवाएगा।
काफी लंबे समय से अवैध वेंडरों से भरा पड़ा झांसी का स्टेशन आने वाले कुछ समय मे आपको बदला बदला सा नजर आने लगे। तो इसमें कोई आश्चर्य मत कीजियेगा। नए डायरेक्टर अनुपम सक्सेना की जिस प्रकार की कार्यप्रणाली है उससे निश्चित रूप से इस समस्या पर प्रभावी रोक लगने की उम्मीद जाग गई है।इसी प्रकार रेलवे के सफाई मानदंडों में फिसड्डी आये झांसी के स्टेशन को साफ सुथरा रखना भी उनके लिए बड़ी चुनौती है।जिस प्रकार सफाई कम्पनी से मिलकर कुछ रेलवे के कर्मचारी सफाई ठेके को पेटी कॉन्ट्रेक्ट पर चला रहे है,इस कॉकस को तोड़ना भी नए डायरेक्टर के लिए एक बड़ा काम होगा।
जहां तक गिरीश कंचन की कार्यप्रणाली का सवाल था उनके कार्यकाल में सफाई मानदंडों में यह स्टेशन फिसड्डी रहा था।चारों तरफ मक्खियों की तरह भिनभिनाते अवैध वेंडरों ने एक तरह से स्टेशन पर पूरी तरह से कब्जा कर लिया था।इसके अलावा कई ऐसी समस्याएं थीं,जिनके ऊपर कंचन का कोई नियंत्रण नहीं था।
नए डायरेक्टर अनुपम सक्सेना के सामने कई चुनोतियाँ हैं लेकिन जज्बे के धनी सक्सेना के लिए चुनोतियाँ कोई मायने नहीं रखती हैं।उम्मीद कीजिये कुछ दिनों में एक समृद्ध झांसी स्टेशन की।

 

0Shares

Check Also

ट्रैकमैनों से डरी लाल झंडे की यूनियन,ईसीसी सोसायटी चुनाव में फर्जीवाड़ा, पहले पैनल वैलिड किया फिर किया रद्द

चुनाव अधिकारी व सीपीओ ने किया लाल झंडे की यूनियन के दवाब में गलत फैसला,13 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *