https://youtu.be/xrDtjt0crrI

बिना इंजन दौड़ी पुरी अहमदाबाद एक्सप्रेस,भीषण दुर्घटना बची

टिटलागढ़। रेलवे भले सेफ्टी के कितने भी दावे करें लेकिन कर्मचारियों की लापरवाही के कारण आए दिन दुर्घटना का डर बना रहता है। बीती रात ऐसा ही एक बड़ा हादसा रेल कर्मचारियों की लापरवाही के चलते होने से बच गया। जब पुरी से आकर अहमदाबाद जाने वाली ट्रेन का इंजन चेंज किया जा रहा था। तभी सुरक्षा उपाय ना करने के कारण गाड़ी लगभग 20 किलोमीटर तक बिना इंजन के दौड़ गई। गनीमत यह रही कि इस बीच टिटलागढ़ केसिंगा सेक्शन के में कोई दूसरी गाड़ी नहीं थी। अन्यथा लापरवाही के कारण कई यात्री बेमौत मारे जाते। इस तरह से बिना इंजन गाड़ी दौड़ने के कारण रेलवे बोर्ड में हड़कंप मच गया। वहां से जांच के आदेश दिए जा चुके हैं। दूसरी ओर लापरवाही बरतने के चलते 2 कर्मचारियों को निलंबित कर जांच शुरू कर दी है। कई बड़ों पर गाज गिरने की संभावना से इनकार नहीं किया जा रहा है।
पुरी से आकर अहमदाबाद की ओर जाने वाली पूरी अहमदाबाद एक्सप्रेस बीती रात दुर्घटना का शिकार होने से बच गई। जब इस गाड़ी का इंजन चेंज किया जा रहा था तब सुरक्षा उपाय ना करने के कारण यह गाड़ी कांटा बाजी सेक्शन की बजाए केसिंगा सेक्शन की ओर चली गई। बताया जाता है कि जब इंजन को काटा गया तब स्टाफ ने स्किड व अन्य सुरक्षा उपाय नहीं किए। जैसे ही पावर को अलग किया गया ट्रेन में अचानक वैक्यूम क्रिएट हो गया और यह गाड़ी रफ्तार के साथ केसिंगा सेक्शन की ओर चल दी। गनीमत रही कि इस दौरान सेक्शन खाली था नहीं तो भीषण हादसे से इनकार नहीं किया जा सकता। इस तरह से गाड़ी के बिना इंजन दौड़ने से रेलवे बोर्ड तक अफरा तफरी मच गई। मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। प्रथम दृष्टया दोषी पाए गए 2 कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया है। घटना की जांच शुरू कर दी गई है।
इस तरह की लापरवाही के चलते रेलवे बोर्ड किसी को बख्शने के मूड में नहीं है। सूत्रों का रेलवार्ता से दावा है कि इस मामले में कई बड़ों पर गाज गिर सकती है।

0Shares

Check Also

थके ड्राईबर ने दस घंटे से ज्यादा गाड़ी चलाने से किया इंकार तो डीओएम ने कराया गिरफ्तार

मामले के तूल पकडऩे पर अधिकारी ने माफी मांग कर मामले को निपटाया। दरअसल ड्राईवर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *