Recent Posts

कर्मचारियों की एक भी मांगे नहीं पूरी हुईं पिछले पांच सालों में,दोषी कौन!

नईदिल्ली।एक और चुनाव की घोषणा होने से साफ हो गया कि अब रेल कर्मचारियों को कुछ नही मिलने वाला है।जो फेडरेशन के नेता सरकार को घुटने के बल बैठाने की बात कर सभी मांगे मनवाने का दम्भ भर रहे थे, आज वह मुंह दिखाने के लायक भी नहीं बचे हैं।अब नई सरकार के आने पर ही कुछ सम्भव है।फिलहाल न …

Read More »

आवास पॉलिसी,थोड़ी भी नहीं बची शर्म,दूसरी यूनियन के कार्य का खुद लिया क्रेडिट

झांसी।उनको न तो शर्म बची है और न आप उनसे ऐसी उम्मीद कीजिये।दूसरे की मेहनत को अपना बता कर कर्मचारियों को बेवकूफ समझने की उनकी कोशिशें लगातार जारी हैं।पहले स्वयं कर्मचारियों के लिए नुकसानदेह आवास आवंटन की पॉलिसी बनवाई,जब इसका विरोध यूएमआरकेएस ने करके उपश्रम आयुक्त के पास मामले को ले जाकर अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया, तब अपनी …

Read More »

रेलकर्मचारियों के लिए खुशखबरी, शिवगोपाल मिश्रा ने दिया सरकार को 31 जनवरी तक का अल्टीमेटम

नागपुर।रेलकर्मचारियों के लिए संघर्ष करने की एक और तारीख मिली है।अब 31 जनवरी के बाद कभी भी एआईआरएफ के महामंत्री शिवगोपाल मिश्रा संघर्ष का बिगुल फूंक सकते हैं।इसकी बकायदा उन्होंने सेंट्रल रेलवे श्रमिक यूनियन के यहां आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में घोषणा की।उन्होंने कहा कि एआईआरएफ की वर्किंग कमेटी की बैठक से पहले सरकार ने मांगें नहीं मानी तो हम बड़ा …

Read More »