Recent Posts

दो मौतें, फिर भी नेताओं से किसी ने नहीं सुने सम्वेदना के दो शब्द,रनिंग कर्मचारी स्वयं अपनी दुर्दशा के लिए जिम्मेदार!

आज स्थिति यह है कि इस विभाग के कर्मचारियों को दोयम दर्जे का दर्जा मिला हुआ है जबकि यह सर्वविदित है कि यह कर्मचारी इतने ताकतवर हैं कि यदि यह चाह लें तो दो मिनट में पूरी ट्रेनें यहां वहां खड़ी हो जाएंगी। लेकिन फिर भी सहायक चालक को आज सबसे निचले दर्जे के कर्मचारी के बराबर वेतन व अन्य …

Read More »

अधिकारियों के विरोध के बाद डीआरएम के पॉवर में कटौती!

नईदिल्ली।अधिकारियों के विरोध के बाद रेलवे बोर्ड ने मण्डल रेल प्रबंधक यानि डीआरएम को दी गई अपार शक्तियों में कुछ कटौतियां कर दीं है। अब वह अपने अधीनस्थ अधिकारियों का विभाग नहीं बदल सकते हैं।पूर्व की तरह यह अधिकार एक बार फिर जोनल मुख्यालय को चला गया है। दरअसल रेलवे बोर्ड ने कुछ समय पूर्व डीआरएम को असीमित शक्तिशाली बना …

Read More »

सरकार ने किया साफ,रद्द नहीं होगी एनपीएस, अब तो कीजिये नेताजी हड़ताल…!

नई दिल्ली।सरकार ने साफ कर दिया है कि उसका नई पेंशन योजना को रद्द करने का कोई इरादा नहीं है।वहीं सरकार की दो टूक के बाद भी रेलवे के नेता लगातार इस मुद्दे पर कर्मचारियों को गुमराह किये हुए हैं।दावा किया जा रहा है कि एनपीएस को लेकर अगले माह हड़ताल करने की घोषणा की जा सकती है।लेकिन रेलवार्ता को …

Read More »